what is url in hindi , url क्या होता है

Meaning of Url in hindi | What is Url in hindi |Url क्या है ?


आज हम जानेंगे की What is Url in hindi यदि आप इंटरनेट का प्रयोग करते है तो यह नाम जरूर सुना होगी की Url kya hai जैसा की आज के समय में हमारी जिंदगी या काम काज में इंटरनेट का कितना योगदान है  और इसके होने से हमारे काम काज में कितना प्रभाव पड़ा है और जब भी आप इंटरनेट का इस्तेमाल करते है तो आपको यदि किसी वेबसाइट को खोलना है तो आपको उस वेबसाइट का नाम से गूगल या किसि भी सर्च इंजन में सर्च करते है। 

या फिर आपको उस वेबसाइट का लिंक यानी यूआरएल पता होता है तो आप उस वेबसाइट पर डायरेक्ट जा सकते है यह सिर्फ यूआरएल कोई ही मदत से हो पाता है तो चलिए हम इसके बारे में गहराई से जानते है की what is url in hindi अथवा Url क्या है आज हम आपको ये भी बताएंगे की यूआरएल काम कैसे करता है। 

What is Url in hindi ( Url क्या है )

what is url in hindi
what is url in hindi | यूआरएल क्या है 

एक यूआरएल किसी वेबसाइट के डोमेन नाम (यानि उस वेबसाइट का नाम ) का ही भाग होता है  यदि किसी वेबसाइट का नाम www.technicradar.com है  तब उसका यूआरएल https://www.technicradar.com होगा किसी वेबसाइट के यूआरएल से आप उसकी सारी जानकारी देख कर ही समझ सकते है जैसे - यदि कोई वेबसाइट का यूआरएल https://www.technicradar.com है तब हम इसे कुछ इस तरह से समझते है 

https://          =  यह पार्ट वेबसाइट के प्रोटोकॉल को दर्शाता है इस तरह की वेबसाइट को हम सिक्योर वेबसाइट भी कहते है कभी कभी अपने ऐसा भी देखा होगा की कुछ वेबसाइट ऐसी भी होती है जो इस तरह होती है जैसे = http://www.technicradar.com इस तरह की वेबसाइट असुरक्षित होती है क्योंकि इसमें सिक्योरिटी सर्टिफिकेट अथवा S नहीं लगा हुआ है यदि इस वेबसाइट में https:// होता तो इसे सुरक्षित वेबसाइट मन जाता S दर्शाता है की यह वेबसाइट एक सिक्योर वेबसाइट है। 

http का फुल फॉर्म "Hyper Text Transfer Protocol" है 

www             = किसी भी वेबसाइट में यह पार्ट जरूर होता है  www का फुल फॉर्म यानि पूरा नाम 

World Wide web होता है 

www को हम एक स्टोरेज के रूप में देखते है जहा पर दुनिया की सारे वेबसाइट का डाटा स्टोर किया जाता है जिसकी वजह से हम इसे वर्ल्ड वाइड वेब स्टोर भी कहते है। 

 यहां पर सारी फाइल या डाटा हाइपर टेक्स्ट में होते है जिसे हम इंटरनेट के माध्यम से एक्सेस कर सकते है। 

technicradar  यह किसी भी वेबसाइट का नाम होता है  इसे हम DNS (domain Name Server) भी कहते है।  यह अपने एक ip Address के साथ जुड़ा होता है। जब भी हम किसी वेबसाइट को ब्राउज़र में डालते है तो वह उस वेबसाइट के आईपी एड्रेस के साथ कनेक्ट हो जाता हैं और आपको उस वेबसाइट तक ले जाता है। 


.com              =   यह कई प्रकार के होते है हम इन्हे कई Cotegory में रखते है यदि किसी भी वेबसाइट में .com doamin है तो यह ये संकेत देता है की यह एक टॉप लेवल डोमेन है और साथ ही साथ .com का प्रयोग कमर्शियल में लाया जाता है।  

चलिए हम आपको इसके कुछ उदाहरण देते है। 


COM = इस तरह का डोमेन को कमर्शियल वेबसाइट में प्रयोग किया जाता है और यह टॉप लेवल डोमेन की श्रेणी में आता है। 

ORG = इस तरह के डोमेन का प्रयोग संस्थाए करती है जैसे = School , Comunity , और साथ ही कुछ Non Profitable कार्यो के लिए किया जाता है। इस तरह की वेबसाइट लोगो को फ्री सुबिधा देती है। 

NET =  इस तरह के डोमेन को हम पर्सनल जानकरियों को लोगो के साथ बाटने के लिए करते है 

IN   = इस तरह के डोमेन Country Level Domain कहते है यह किसी देश को दर्शाते है की यह किसी देश के लिए बना है जैसे हमारे India का कोड IN हमारा Country Level Domain IN है। 

इसी तरह यदि United State का Country Level Domain देखा जाए तो इस तरह होगा Us होता है। 

GOV = इस तरह की डोमेन नाम का सरकारी संस्थाओ में प्रयोग किया जाता है 

ये कुछ टॉप लेवल श्रेणी के डोमेन है जिन्हे हम TLD भी कहते है। 
और भी बहुत सारे डोमेन नाम है ये कुछ महत्वपूर्ण है जिन्हे हम अक्सर देखते है। अब तो आप समझ ही गए होंगे की यूआरएल क्या है अथवा what is Url in hIndi में क्या है किसे कहते है।

तो चलिए जानते है की कोई भी यूआरएल काम कैसे करता है।

इंटरनेट क्या यह कैसे चलता है ?

गूगल क्या है गूगल का मालिक कौन है ?

डोमेन नाम अथवा dns क्या है ?

URL का क्या काम है यह काम  कैसे करता है 

जब भी हम किसी यूआरएल को किसी वेबसाइट या वेबपेज से उसे कॉपी करते है तो उस वेबसाइट की सारी डिटेल उस यूआरएल रहती है। 

जैसा की हमें पता है की यदि है किसी ऐसे स्थान पर जाना है झा हम कभी नहीं गए है। तब हम उस अस्थान का एड्रेस नोट करते है फिर वह जाने के लिए निकलते है। 

इसी तरह एक यूआरएल भी होता है जब हमें किसी ऐसे वेबसाइट या किसी वेबसाइट की पेज  होता है तब हम अक्सर उस उस के यूआरएल को कॉपी करते है  सेव कर लेते है। 

जब भी हमें कभी जरूरत होती है उस वेबसाइट पर जाने की तो हम उस यूआरएल को ब्राउज़र में ओपन करके डायरेक्ट हम किसी फाइल पर जा सकते है। 

ऐसा हम इसलिए भी करते है की जैसे किसी वेबसाइट पर हजारो फाइल है और आप चाहते है की आपको उस फाइल को फिर से उस वेबसाइट में खोजना न पड़े तो आप उस पेज को सेव कर लेते है और इससे आपका टाइम बचत बचता है अब तो आप समझ ही गए होंगे की यूआरएल का क्या काम है और यह काम कैसे करता है। 

निष्कर्ष :

आज आपने What is Url in hindi अथवा यूआरएल क्या है और यह कैसे काम करता है इसे जाना जैसा की आप समझ ही गए होणगे की कोई यूआरएल एक एड्रेस कीतरह काम करता है बस अंतर सिर्फ इतना है की यह किसी वेबसाइट का एड्रेस होता है। 

आशा करता हों की आपको इस पोस्ट माध्यम से यह जानकारी हो ही गई होगी की यूआरएल क्या हैं यदि आपके इस पोस्ट से समबन्धित कोई भी सवाल है तो आप हमसे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते सकते हम आपके सवालो के जवाब जल्द ही देने की कोसिस करेंगे। 

और साथ ही इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ साझा करें जिससे उन्हें भी यह जानकरी हो जाये की What is Url hindi अथवा यूआरएल क्या है। हमारे वेबसाइट www.technicradar.com पर आने के लिए आपका धन्यवाद। 

Post a Comment

0 Comments